बड़ा अफ़सोस होता है

bada afsos hota hai, tumhare fazool ke gumaaN pe,
maaf karna, par zindagi badalti rehti hai.

बड़ा अफ़सोस होता है, तुम्हारे फज़ूल के गुमां पे,
माफ़ करना, पर ज़िन्दगी बदलती रहती है |

घुटन सी है हर तरफ

ghutan si hai har taraf, meri nazar ki pahoch tak,
main saans bhi nahi le pata, Dil bhi ab dhadakta nahi.

घुटन सी है हर तरफ, मेरी नज़र की पहोंच तक,
मैं सांस भी नहीं ले पाता, दिल भी अब धड़कता नहीं |

 

ये जो कड़वाहट है उसकी जुबां में

ye jo kadwahat hai uski zubaaN mein,
mujhe darr hai ki wo khud hi-
kahiN oos zehar mein doob na jaye-
Khuda Khair karey!

ये जो कड़वाहट है उसकी जुबां में,
मुझे डर है कि वो ख़ुद ही-
कहीं उस ज़हर में डूब न जाये-
ख़ुदा खैर करे !

बे-बात ख़िलाफ़त

Be-baat khilaafat,
koi achhi baat nahi,
khair manana, jis roz,
bazi palte-gi humari.

बे-बात ख़िलाफ़त,
कोई अच्छी बात नहीं,
खैर मनाना, जिस रोज़,
बाज़ी पलटे-गी हमारी |

फ़र्क़ बस इतना था

Farq bas itna tha
ki idhar mohabbat thi
aur! udhar thi- uski mohabbat…

फ़र्क़ बस इतना था
इधर मोहब्बत थी
और! उधर थी- उसकी मोहब्बत…

Scroll To Top